दिवाळी 2020 तारीख New Delhi, India साठी

Coronavirus: stay at home Leave your home if it's necessary. It will help stop the spread of novel coronavirus & COVID-19

  1. भाषा :

दिवाळी 2020 पुजा तारीख

दिवाळी पुजा तारीख New Delhi, India साठी

दिवस 1

त्रयोदशी

धनत्रयोदशी

13

नोव्हेंबर 2020

(शुक्रवार)

दिवस 2

चतुर्दशी

नरक चतुर्दशी

14

नोव्हेंबर 2020

(शनिवार)

दिवस 2

चतुर्दशी

दिवाळी

14

नोव्हेंबर 2020

(शनिवार)

दिवस 3

अमावस्या

गोवर्धन पुजा

15

नोव्हेंबर 2020

(रविवार)

दिवस 4

प्रथम

भाऊबीज

16

नोव्हेंबर 2020

(सोमवार)

दिवाली या दीपावली हिंदू धर्म में मनाया जाने वाला सबसे बड़ा त्यौहार है। यह त्यौहार धनतेरस से शुरू होकर भैया दूज पर समाप्त होता है। 5 दिवसीय इस पर्व की शुरुआत धन तेरस से होती है, दूसरे दिन नरक चतुर्दशी यानि छोटी दिवाली मनाई जाती है। तीसरे दिन दिवाली का त्यौहार मनाया जाता है जबकि चौथे दिन गोवर्धन पूजा और पांचवे दिन भैया दूज मनाई जाती है।

दिवाली का त्यौहार मुख्यत: देवी लक्ष्मी और महाकाली को समर्पित है। हालांकि धन तेरस, नरक चतुर्दशी, गोवर्धन पूजा और भैया दूज पर देव धन्वंतरि, यमराज और भगवान श्री कृष्ण की पूजा का भी विधान है। 5 दिनों तक चलने वाले इस उत्सव में कार्तिक अमावस्या के दिन दिवाली का विशेष महत्व है। इस दिन लक्ष्मी पूजा की जाती है। देवी लक्ष्मी के साथ भगवान गणेश, देवी सरस्वती और महाकाली की भी पूजा होती है।

दिवाली के दिन लक्ष्मी पूजा का सर्वोत्तम समय सूर्यास्त के बाद प्रदोष काल में होता है। क्योंकि प्रदोष काल में पड़ने वाली अमावस्या पर लक्ष्मी पूजा का विशेष महत्व है। वहीं महानिशीथ काल में मॉं महाकाली की पूजा की जाती है। हालांकि यह मुहूर्त तांत्रिक, पंडित और साधकों के लिए उपयुक्त होता है। घर के अलावा ऑफिस और कारखानों में भी दिवाली पूजा होती है। व्यापारी वर्ग उपकरण और बही खातों की पूजा करते हैं।

दिवाली को लेकर कुछ पौराणिक कथाएं भी प्रचलित हैं। मान्यता है कि कार्तिक अमावस्या के दिन ही भगवान श्री राम चौदह वर्ष का वनवास काटकर अयोध्या लौटे थे और इस खुशी में अयोध्या वासियों ने दीये जलाकर उत्सव मनाया था। तभी से दिवाली पर्व की शुरुआत हुई। इसके अलावा भगवान श्री कृष्ण ने राक्षस नरकासुर का वध कर देवता और साधु-संतों को उसके आतंक से मुक्ति दिलाई थी। इसके बाद से ही कार्तिक चतुर्दशी और अमावस्या पर नरक चतुर्दशीदीपावली का त्यौहार मनाया जाने लगा। भारत के कई राज्य और प्रांत में दिवाली अलग-अलग तरीके से मनाई जाती है।

दिवाली पूजा कैलेंडर के माध्यम से जानिये इस वर्ष कब मनाई जाएगी दिवाली और जानें लक्ष्मी पूजा विधि? नीचे दिया जा रहा दिवाली कैलेंडर दिल्ली के लिए मान्य है। यदि आप अपने शहर में दिवाली की तारीख और पूजा का मुहूर्त जानना चाहते हैं, तो इस पेज पर दिए विकल्प में अपने शहर का नाम व वर्ष लिखें और जानें दिवाली की तारीख और लक्ष्मी पूजा मुहूर्त।

संबंधित लेख:

1.  दिवाली संदेश
2.  दिवाली वॉलपेपर

अॅस्ट्रोसेज मोबाइल वरती सर्व मोबाईल ऍप

अॅस्ट्रोसेज टीव्ही सदस्यता घ्या

रत्न विकत घ्या

AstroSage.com वर आश्वासनासह सर्वोत्कृष्ट रत्न

यंत्र विकत घ्या

AstroSage.com वर आश्वासनासह यंत्राचा लाभ घ्या

नऊ ग्रह विकत घ्या

ग्रहांना शांत करण्यासाठी आणि आनंदी आयुष्य मिळवण्यासाठी यंत्र AstroSage.com वर मिळावा

रुद्राक्ष विकत घ्या

AstroSage.com वर आश्वासनासह सर्वोत्कृष्ट रुद्राक्ष